नागपुरियाँ गैंग नें नेहरू के बारें सिर्फ अफ़वाहें फैलाया – संजय तिवारी

आज पंडित जवाहरलाल नेहरू की 130 वी जन्म दिवस की पूर्व संध्या पर बालसन चौराहा स्थित उनकी मूर्ति के पास सैकड़ों कांग्रेसियों ने मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि अर्पित किया।

श्रद्धांजलि के उपरांत एक बैठक हुई बैठक में इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष संजय तिवारी ने पंडित जवाहरलाल नेहरू को आधुनिक भारत का निर्माता और देश की आजादी में अग्रणी भूमिका निभाने वाले इस नायक को पूरे विश्व का सबसे विद्वान और महानायक बताया तिवारी ने कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरू की आधुनिक एवं वैज्ञानिक सोचने भारत की तस्वीर बदलने के लिए जो आधारशिला रखी चाहे रिहंद बांध, भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर आईआईटी रही हो या यूनिवर्सिटीज रहे हो नेहरू जी ने स्वतंत्र भारत की आधारशिला उस समय रखी जब भारत में वैज्ञानिक सोच की कमी थी।

दूरदर्शी होने के कारण उनकी आधुनिक सोचने भारत को पूरे विश्व में आज नंबर वन बना दिया नेहरू जी ऐसे थे जिन्होंने अमेरिकी साम्राज्यवाद के खिलाफ जेसी बरोज टीटो और नासिर के साथ मिलकर एशिया और अफ्रीका में उपनिवेशवाद के खात्मे के लिए गुटनिरपेक्ष देशों की नींव रखी पूरे विश्व को यह संदेश दिया भारत अपने आप में एक शक्तिशाली सोच ही नहीं रखता वह विश्व का नेतृत्व कर सकता है

तिवारी ने बताया कि 1924 में पंडित जवाहरलाल नेहरु इलाहाबाद नगर निगम के अध्यक्ष थे 1926 में उन्होंने इस्तीफा दे दिया अंग्रेजों के असहयोग के कारण 1926 से 1928 के बीच में व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव रहे और 1928 29 में उन्होंने सुभाष चंद्र बोस के साथ भारत के पूर्व राजनीतिक स्वतंत्रता की मांग को सम्मेलन में उठाया और परिणाम स्वरूप 1930 में लाहौर के अधिवेशन में कांग्रेस के अध्यक्ष चुने गए।

वक्ताओं ने कहा कि अगर नेहरू की जगह कोई और प्रधानमंत्री रहा होता तो आज भारत कि जो आधुनिक तस्वीर है जो प्रगतिशील तस्वीर है जिस वैज्ञानिक अब कंप्यूटर क्षेत्र में भारत अपना झंडा लहरा रहा है. समाजवादी आर्थिक सोच में भारत जिस तरीके से विश्व का नेतृत्व करते हुए अपना स्थान पाया है वह नहीं होता.

श्री तिवारी ने यह भी कहा कि चाहे पाकिस्तान से लड़ाई हो चाइना से लड़ाई हो कुछ नागपुरिया गैंग को छोड़ दीजिए जो नेहरू जी के बारे में हमेशा अफवाह फैलाते रहे अंग्रेजों का साथ देते रहे और आजादी के आंदोलन को कमजोर करने की कोशिश हमेशा की और आजादी के बाद भी सांप्रदायिक माहौल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जिन लोगों ने महात्मा गांधी की हत्या किया और जिनकी सोच मैं आज भी गांधी के हत्यारे का दर्शन जिंदा है जिनकी सोच नेहरू और सरदार पटेल में दरार पैदा करने की है वह भारत निर्माण को छोड़कर अपनी राजनीति सेकने में लगे और जनता को गुमराह कर रहे हैं ।

पंडित जवाहरलाल नेहरू ने दर्जनों किताबों को लिखा जिसमें डिस्कवरी ऑफ इंडिया आज भी पूरे विश्व में पढ़ी जाती है इसीलिए गांधी जी ने प्रधानमंत्री के चुनाव में पूरे देश में सबसे अधिक वोट सरदार पटेल को मिलने के बावजूद नेहरू जी को प्रधानमंत्री बनाया और जिसका समर्थन सरदार पटेल ने किया इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मुकुंद तिवारी ,तलत अजीम हसीब अहमद ,सुरेश यादव ,जितेश मिश्रा, अभ्युदय त्रिपाठी ,शशांक शर्मा ,विकास तिवारी, इरशाद उल्लाह ,निशांत रस्तोगी ,उदय यादव गौरव पांडे शामिल रहें।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s